हल्द्वानी-सीएससी सेंटरों में सिटी मजिस्ट्रेट का छापा, मिली गड़बड़ी

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में संचालित हो रहे सीएससी सेंटरों में सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने छापेमारी की गई। इस दौरान अधिकांश सीएससी सेंटरों में कई खामियां देखने को मिली। सबसे पहले सिटी मजिस्टेªट ने खान चंद मार्केट में एक सीएससी सेंटर ऐसा संचालित करते हुए पाया गया, जिसकी आईडी भीमताल के लिए जारी की गई थी। वहीं दो सीएससी सेंटर ऐसे मिले जिसमे संचालक के स्थान कोई अन्य व्यक्ति केंद्र चला रहा था। सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने बताया कि शहर के सभी सीएससी सेंटरों की जांच के बाद रिपोर्ट तैयार कर जिलाधिकारी को भेजी जाएगी। शहर में संचालित सीएससी सेंटरों से संबधित शिकायते पिछले लंबे से लगातार मिल रही थी।
जिलाधिकारी डीएम वंदना सिंह के निर्देश पर सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने मंगलवार को शहर के विभिन्न क्षेत्रों में 15 सीएससी सेंटरों में छापेमारी की। सिटी मजिस्ट्रेट ने बनभूलपुरा, खान चंद मार्केट, रेलवे बाजार, रोडवेज स्टेशन, चोरगलिया रोड, टनकपुर रोड व आजाद नगर में 15 सीएससी सेंटरों में छापेमारी करते हुए संेटरों की जांच की गई। इस दौरान अधिकांश सीएससी सेंटरों में अनियमितताएं पाई गई। 15 में से सिपर्फ दो सेंटरों में ही रेट लिस्ट मिली, जबकि 13 सीएससी सेंटरों में रेट लिस्ट चस्पा नहीं की गई थी। वहीं दो सीएससी सेंटर ऐसे मिले जिसके लाईसेंस में किसी दूसरे व्यक्ति के नाम और संचालित कोई और कर रहा है। भीमताल के नाम से जारी की गई आईडी से हल्द्वानी स्थित खान चंद मार्केट में सीएससी सेंटर संचालित किया जा रहा था। छापेमारी के दौरान अधिकांश सीएससी सेंटरों के संचालक यह तक नहीं बता पाए कि उन्हें किस स्थान पर सेंटर संचालित करने के लिए आईडी जारी की गई है। सीएससी सेंटरों में अचानक हुई छापेमारी से सेंटर संचालकों में हड़कंप मच गया। सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने बताया कि अनियमितताओं वाले सीएससी सेंटरों पर कार्रवाई के लिए ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर को पत्र लिखा जा रहा है। शहर के सभी सीएससी सेंटरों की जांच के बाद रिपोर्ट तैयार कर जिलाधिकारी को भेजी जाएगी। छापेमारी के दौरान सिटी मजिस्टेªट ऋचा सिंह के साथ नायब तहसीलदार युगल किशोर पांडे भी मौजूद रहे।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में उत्तराखण्ड बेरोज़गार संघ के अध्यक्ष बॉबी ने युवाओं को राजनीतिक लड़ाई के लिए तैयार रहने को कहा