हल्द्वानी शहर को फटाफट साफ करेगा ‘जटायु’, मेयर ने दिखाई हरी झंडी

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। शहर अब जल्द ही जहां कूड़ा मुक्त हो जाएगा, वहीं सड़कें भी चकाचक दिखाई देंगी। शुक्रवार को मशीन की गुणवत्ता व क्षमता मापने के लिए इसका ट्रायल किया गया। मेयर डा. जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला और नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने संयुक्त रूप से वाहन को हरी झंडी दिखाई। ट्रायल के दौरान मशीन पूरी तरह से खरी उतरी है। जल्द ही जटायू नाम की यह मशीन शहर की सड़कों की धूल, खाली स्थानों पर पड़े कूड़े के ढेर और नालियों में डंप कूड़ा को चंद मिनट में साफ कर देगा। बता दें कि शहर में सड़कों की सफाई हस्तचालिक तरीके से की जाती है जिससे साफ सफाई उतनी बेहतर ढंग से नहीं हो पाती है। ऐसे में सड़कों को चकाचक बनाने के साथ ही डंप पड़े कूड़े के ढेर को साफ करने के लिए नगर निगम ने सफाई मशीन खरीदने का निर्णय लिया।

मशीन खरीदने का प्रस्ताव पहले ही पास हो चुका था, पिछले महीने निविदा भी निकाली गई जिसमें तीन कंपनियों का चयन किया गया। तकनीकी बिड में जेम पोर्टल कंपनी ने बाजी मारी जिसके बाद निगम ने 45 लाख रूपए में जटायु नामक मशीन की खरीद की। मशीन की खरीद के लिए जिला विकास प्राधिकरण ने नगर निगम को 45 लाख रूपए दिए थे। नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने बताया कि उक्त मशीन के संचालन के लिए वाहन चालक और हेल्पर को प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जिसके बाद मशीन को लगातार 16 घंटे संचालित करने की योजना है। उन्होंने बताया कि शहर को कूड़ा मुक्त बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी के बनभूलपुरा में कर्फ्यू को लेकर बड़ी खबर, ज़िलाधिकारी का आदेश

यह मशीन खाली प्लाट में पड़े डंप कूड़े, नालियों में पड़े कूड़े का निस्तारण करने में काफी कारगर है। शुक्रवार को मेयर डा. जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला सहित निगम के अधिकारियों की मौजूदगी में मशीन की गुणवतता व क्षमता जांची गई जिसमें मशीन पूरी तरह से खरी उतरी है। नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने बताया कि नगर निगम ने 45 लाख रुपए में मशीन खरीदी है। इस मशीन को चलाने के लिए अभी 4 चालकों और कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहाहै।

Ad