हल्द्वानी में चौबीसों घंटे हर गतिविधि पर रहेगी पुलिस की ‘तीसरी’ नज़र

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। शुक्रवार को हल्द्वानी बहुउद्देशीय भवन में बने करीब एक करोड़ रुपए की लागत से सीसीटीवी कंट्रोल रूम का शुभारंभ करने पहुंचे डीजीपी अशोक कुमार को कोतवाली परिसर में पुलिस अधिकारियों द्वारा गार्ड ऑपफ ऑनर दिया गया। जिसके बाद डीजीपी अशोक कुमार ने सीसीटीवी कंट्रोल रूम का पफीता काटा। इस दौरान डीजीपी ने कहा कि पुलिस की कार्यप्रणाली में अब काफी बदलाव आया है। 1980 के दशक में अपराधों की विवेचना में आईविक्टनेस, फिंगर प्रिंट आदि की जरूरत पड़ती थी। समय के साथ अब सीसीटीवी फुटेज की प्राथमिकता बढ़ गई है। इससे न सिर्फ अपराधों की विवेचना, बल्कि इसके नियंत्रण कानून व्यवस्था की स्थिति पर नजर रखने काफी महत्वपूर्ण होगा। डीजीपी ने कहा एसएसपी पंकज भट्ट की की दूरदर्शिता के चलते हैं हल्द्वानी में पुलिस अब और भी हाईटैक होगी। हल्द्वानी शहर के विभिन्न सड़क मार्ग, व्यस्ततम चौराहों को सीसीटीवी कैमरे से लैस किया गया है जिसका कंट्रोल रूम पुलिस बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी में स्थापित किया गया जहां पर नियुक्त पुलिसकर्मी 24 घंटे शहर की निगरानी रखेंगे। इसके बाद डीजीपी ने हल्द्वानी में पुलिस के विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने मोबाइल रिकवरी सेल, अभिसूचना इकाई, एसओजी कार्यालय, पुलिस संचार केंद्र, इत्यादि का भौतिक निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस मौके पर आईजी डा. नीलेश आनंद भरणे, एसएसपी पंकज भट्ट, एसपी क्राईम डा. जगदीश चन्द्र, एसपी सिटी हरबंश सिंह, सीओ भूूपेन्द्र सिंह धौनी आदि मौजूद रहे।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में उत्तराखण्ड बेरोज़गार संघ के अध्यक्ष बॉबी ने युवाओं को राजनीतिक लड़ाई के लिए तैयार रहने को कहा