कांग्रेस प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने अतिक्रमण मामले में विधायकों को नौटंकी न करने की नसीहत दी

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने नेशनल एवं स्टेट हाईवे किनारे अतिक्रमण मामले में मुख्यमंत्री, मंत्री, भाजपा विधायकगण से नौटंकी से बाज आने को कहा। बल्यूटिया ने कहा जब मामला मा० उच्च न्यायालय में चल रहा था तब सरकार व विधायकगण कुंभकरण की नीद में सोये थे। अब जब मा० उच्च न्यायालय ने राष्ट्रीय और राज्य राजमार्ग के किनारे हुए अतिक्रमण को ध्वस्त करने के आदेश पारित किए तब भाजपा को अपनी वोट बैंक की चिंता सताने लगी। विधिक राय ले कर इस पर काम करने की बजाय भाजपा विधायकगण मुख्यमंत्री को ज्ञापन देकर फोटो खिंचवाकर भोली भली जनता को यह दिखाकर कि हम तुम्हारे साथ हैं कर गुमराह कर रहे हैं।

बल्यूटिया ने कहा कि यदि भाजपा सरकार इन लोगों की सच्ची हितैषी है तो विधिक राय लेकर प्रभावितों को राहत दिलाने के लिए माननीय उच्च न्यायालय की सक्षम बेंच में उचित पैरवी करे। यदि सरकार को ऐसा प्रतीत होता है कि न्यायालय से राहत नहीं मिल सकती है तो सरकार को चाहिये कि प्रभावित परिवारों की व्यवस्था करने तक की मौहलत के लिए मा० उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर सकती है। बल्यूटिया ने कहा सिर्फ हमदर्दी का नाटक करने से कुछ नहीं होने वाला है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:उपद्रव में वांछित अब्दुल मालिक के घर में कुर्की की सख्त कायर्वाही "वीडियो"

बल्यूटिया ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि जिस वक्त उच्च न्यायालय में इस याचिका पर सुनवाई हो रही थी उस समय सरकार को जनहित को ध्यान में रखते हुए उचित पक्ष रखना चाहिए था। जबकि सरकार ने ऐसा नहीं किया। अब सरकार के मंत्री और भाजपा विधायक हमदर्दी का नाटक करते हुए प्रभावित लोगों के जख्मों को कुरेद रहे हैं। बल्यूटिया ने कहा कि सरकार का दोहरा चरित्र किसी से छिपा नहीं है। पहले भी सरकार ने दमुवाढुंगा वासियों का मालिकाना हक छीनने का काम किया। वहीं दूसरी तरफ वीर शहीदों के आश्रितों को मिलने वाली 10 लाख की सहायता के खिलाफ मा० उच्चतम न्यायालय में सरकार की ज़ोर आजमाइश ने भाजपा के दोहरे चरित्र को उजागर कर दिया है।

Ad