हल्द्वानी- नहीं रहें जाने माने सिनेमा व्यवसायी लक्ष्मण दास, मेहनत के दम पर बनाई थी अलग पहचान

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। शहर में सिनेमा वाले के नाम से जाने वाले जाने माने सिनेमा व्यवसायी और नाहिद थियेटर के स्वामी लक्ष्मण प्रसाद पुत्र स्व. खेम चंद्र अग्रवाल का निधन हो गया है। उनके निधन का समाचार मिलते ही शहर के प्रबुद्धजनों में शोक की लहर दौड़ गई। वह 78 वर्ष के थे। उनके निधन का समाचार मिलते ही तमाम लोग शोक संवेदना प्रकट करने के लिए उनके पीलीकोठी स्थित वृंदा अर्पाटमेंट पर पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। लोगों ने शोक संतप्त परिजनों को ढांढस बधाते हुए दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान देने के लिए परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना की।
बता दें कि लक्ष्मण प्रसाद पिछले कई दिनों से अस्वस्थ्य चल रहे थे। जिसके चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह विगत 19 दिनों से वेंटिलेटर पर थे। गत दिवस उन्हें कार्डियक अरेस्ट पड़ गया।लक्ष्मण प्रसाद शहर में अपने व्यवहार कुशलता के लिए जाने जाते थे। इन्हीं के परिवार के द्वारा हल्द्वानी में चार सिनेमाघरों प्रेम टॉकीज, लक्ष्मी, सरगम सिनेमा और नाहिद थियेटर का निर्माण किया था। शुक्रवार को मुक्तिधाम बोध पर उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी। वह अपने पीछे दो पुत्र अमित अग्रवाल और सुमित अग्रवाल , पुत्री अंजू अग्रवाल समेत भरे पूरे परिवार को रोता बिलखता छोड़ गए हैं।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  धमाका हुआ तो बस की सीटें उखड़ गयीं, गनीमत रही सवारियां नहीं थीं, हल्द्वानी की घटना