राजस्थान में मुख्यमंत्री पुष्कर धामी का सम्मान

ख़बर शेयर करें -

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के सम्मान में आज श्री गंगानगर, राजस्थान के मानकसर गांव में क्षेत्रवासियों द्वारा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरु जंभेश्वर भगवान की पूण्यभूमि में आकर वे अभिभूत हैं। उन्होंने कहा कि गुरु जंभेश्वर जी ने जीवन में 29 नियम अपनाने के लिए कहा था। उनके द्वारा दिये गए नियमों को आत्मसात कर आज विश्नोई समाज, वाणी पर संयम रखने के साथ ही अन्य नियमों का पालन कर रहा है।
मुख्यमंत्री ने राजस्थान में वन एवं पर्यावरण संरक्षण की अलख जगाने वाली अमृता देवी विश्नोई की शहादत को नमन करते हुए कहा कि सैकड़ों वर्ष पहले राजस्थान में भी अमृता देवी जी के नेतृत्व में चिपको जैसा आंदोलन हो चुका है, जिसमें पेड़ों को बचाने के लिए 363 लोगों ने अपना बलिदान दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे पुरखों ने प्रकृति और मानव के सह-अस्तित्व पर एक समृद्ध विचारधारा को पोषित किया और आज सदियों बाद भी, हम उस विचार का उतनी ही निष्ठा से अनुसरण करते आ रहे हैं।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  भाजपा के मुस्लिम नेता ने पीएम के ‘घुसपैठिया’ बयान को गलत बताया, पार्टी ने निकाला, पुलिस ने हिरासत में ले लिया