हल्द्वानी के कमलुवागांजा में माहौल बिगाड़ने वालों के खिलाफ पुलिस ने उठाया कदम

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी के कमलुवागांजा क्षेत्र के बच्चीनगर में बीते दिनों गाय के साथ अमर्यादित कृत्य करने वाले आरोपी युवक के साथ मारपीट करने, मुंह काला करने, गंजा कर बाजार में घुमाने वालों के खिलाफ पुलिस ने खुद वादी बनकर मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने करीब 50 से 60 लोगों पर कार्रवाई करनी शुरू कर दी है।
पुलिस ने कमलुवागांजा क्षेत्र का माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले 50 से 60 अज्ञात लोगों पर बलवा, अनादर कर बल प्रयोग करने व मारपीट की धारा में केस दर्ज कर लिया है। घटना 14 जून की है।गाय से अमर्यादित कृत्य करने का आरोप लगाकर क्षेत्रवासियों व हिंदू संगठन के लोगों ने एक युवक का सिर मुंडवाकर कालिख पोत दी थी। इसके बाद भय के चलते दुकानें बंद हो गई थी, जबकि कुछ दुकानें जबरन बंद कराई गई थीं।
इतना ही नहीं अब पुलिस उन लोगों को भी चिहिन्त कर रही है जिन लोगों ने आरोपी का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया है। आपकों बता दें कि बीती 14 जून की दोपहर कुछ लोगों ने नईबस्ती स्वार रामपुर यूपी निवासी हफीज पुत्र रफीक को कुछ लोगों ने कमलुवागांजा चौराहे पर पकड़ कर बुरी तरह पीटा। उसे गंजा किया और फिर मुंह भी काला किया। उक्त लोगों ने दुकानों ने तोड़फोड़ की थी। इस घटना का एक वीडियो 16 जून को आरटीओ चौकी प्रभारी प्रीति के व्हाट्सएप पर आया, जिसे उन्हीं के मुखबिर ने भेजा और कहा कि घटना से माहौल बिगड़ सकता है। पड़ताल की तो पता लगा कि वीडियो दो दिन पुराना और कमलुवागांजा में तोड़फोड़ का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। चूंकि अज्ञात व्यक्तियों द्वारा आपरधिक बल का प्रयोग कर हफीज के साथ मारपीट की गई, उसके बाल काटे और मुंह पर कालिक पोतकर उसका अनादर किया।
आसपास की दुकानों पर तोड़फोड करने की वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल की गई। मुखानी थाना पुलिस ने एसआई प्रीति की तहरीर पर धारा 147, 323, 355, 427 के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। साथ ही पुलिस अब उन लोगों को भी चिहिन्त कर रही जिन लोगों ने आरोपी का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया है। हफीज वर्तमान में बरेली रोड स्थित उत्तर उजाला में रहता है और उस पर आरोप था कि उसने बच्चीनगर एक में एक गाय के साथ अप्राकृतिक कृत्य किया है, जिसे गाय के मालिक महेश ने देख लिया और शोर मचाने पर आरोपी भाग खड़ा हुआ।
घटना के दिन भाजयुमो के प्रदेश मंत्री विपिन पांडे ने आरटीओ चौकी प्रभारी प्रीति को जानकारी दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो 50 से 60 लोगों ने हाफिज को घेर रखा था। अज्ञात व्यक्तियों द्वारा हफीज का वीडियो तथा दुकानों में तोड़फोड़ हुई। घटना का वीडियो वायरल किया जा रहा है। मुखानी थानाध्यक्ष रमेश बोहरा ने बताया कि अज्ञात लोगों पर केस दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  निकाय चुनाव के लिए नैनीताल प्रशासन ने शुरू की तैयारियां, संवेदनशील बूथों का निर्धारण