कुमाऊँ आयुक्त दीपक रावत औऱ आईजी नीलेश आनन्द भरणे ने यहां किया निरीक्षण

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। आयुक्त दीपक रावत एवं आईजी नीलेश आनंद भरणे ने गुरूवार को काठगोदाम, हैडाखांन खनस्यू लगभग 200 गांवों को जोडने वाले मोटर मार्ग का संयुक्त रूप से निरीक्षण किया।
हैडाखान मोटर मार्ग में विगत वर्ष भूस्खलन के कारण मार्ग बार-बार अवरूद्व हो जाने से लोगों को आवाजाही में काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा था।
आयुक्त श्री रावत ने कहा कि सडक का 280 मीटर पेच में बार-बार भूस्खलन आने पर वैकल्पिक 2 किमी मार्ग का एलाईमैंट कर लिया गया है जो किमी 5 में मिलेगा। इसके बदले वन विभाग को 3 हेक्टेयर भूमि बेतालघाट में हस्तांतरित कर दी है। आयुक्त श्री रावत ने मौके पर अधीक्षण अभियंता लोनिवि राजेन्द्र सिंह सयाना को सर्वे कर शीघ्र प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये। आयुक्त श्री रावत ने नये बनने वाले वैकल्पिक मार्ग का सीमांकन का स्थलीय निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान प्रभागीय वनाधिकारी बाबूलाल ने बताया कि वन विभाग के द्वारा सडक मार्ग के लिए भूमि का सीमांकन कर दिया है तथा मार्ग पर मार्कर लगा दिये गये हैं।
आयुक्त ने कहा 280 मीटर पेच में जो सडक मार्ग धंस रहा है इसको प्रोटेक्ट करने के लिए सर्वे टीम द्वारा कार्य किया जा रहा है। इसके लिए 25 लाख की धनराशि प्रथम किस्त के रूप में सर्वे हेतु स्वीकृत हो चुकी है इसके उपरान्त सर्वे टीम द्वारा मार्ग प्रोटेक्ट हेतु प्रस्ताव बनाया जायेगा।
आयुक्त ने कहा कि हैडाखान मार्ग काफी महत्वपूर्ण मार्ग है इस मार्ग से खनस्यू, ओखलकांडा,चम्पावत व रीठा साहिब क्षेत्र जुडे हैं। इस हेेतु 24 घंटे यहां पर दो जेसीबी की तैनाती की गई है, मार्ग में मलवा आने से तुरन्त मलवा हटाया जायेगा ताकि मार्ग आवागमन हेतु अवरूद्व ना हो।
स्थलीय निरीक्षण में अधीक्षण अभियंता लोनिवि राजेन्द्र सिंह सयाना, प्रभागीय वनाधिकारी बाबूलाल, सीओ भूपेन्द्र सिंह धोनी, सहायक अभिंयता लोनिवि मनोज पाण्डे के साथ ही वन विभाग एवं राजस्व विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  निकाय चुनाव के लिए नैनीताल प्रशासन ने शुरू की तैयारियां, संवेदनशील बूथों का निर्धारण