दुखदः मज़दूरों की झोपडियों पर गिरा अपार्टमेंट, दो लोग मारे गए, 12 मलबे में दबे

ख़बर शेयर करें -

बेसमेंट की खुदाई से पहुंचा इमारत को नुकसान
लखनऊ में पीजीआई के सेक्टर-12 इलाके में बृहस्पतिवार रात करीब 11.30 बजे कालिंदी पार्क के पास निर्माणाधीन अपार्टमेंट का एक हिस्सा अचानक ढह गया। उसकी चपेट में मजदूरों की पांच झोपड़ियां आने से 12 लोग मलबे में दब गए। पुलिस, दमकलकर्मी व एसडीआरएफ की टीमों ने देर रात तक सभी को मलबे से किसी तरह निकाला और ट्रामा-2 में भर्ती कराया। जहां प्रतापगढ़ निवासी मुकादम (35) व बेटी आयशा (दो माह) की मौत हुई।

एडीसीपी पूर्वी अली अब्बास ने बताया कि अंतरिक्ष अबरिल ग्रीन नाम से एक अपार्टमेंट का निर्माण हो रहा है। उससे सटे रोड के किनारे कई मजदूर पांच झोपड़ियां बनाकर परिवार संग रह रहे हैं।
घटनास्थल के पास मौजूद लोगों ने बताया कि निर्माणाधीन अपार्टमेंट में बृहस्पतिवार दोपहर जेसीबी से बेसमेंट की खोदाई की गई थी। इसके चलते इमारत को नुकसान पहुंचा और देर रात उसका कुछ हिस्सा भरभरा कर ढह गया। निर्माणाधीन अपार्टमेंट में मजदूर का काम करने वाली बीकेटी निवासी सुनील ने बताया कि वह रोड के दूसरी तरफ झोपड़ी डालकर रहता है।

यह भी पढ़ें 👉  इंस्टाग्राम पर महिला से दोस्ती की, मिला तो उम्र देखकर चकरा गया, महिला बोली जबरदस्ती कर रहा था

रात को सभी लेबर खाना-पीना खाकर लेटे थे। कुछ झोपड़ी के अंदर थे तो कुछ गर्मी के चलते बाहर थे। करीब 11.30 बजे अचानक जोरदार धमाके की आवाज का एहसास हुआ। लगा कि बम फट गया हो। हड़बड़ा कर बाहर निकला तो देखा कि निर्माणाधीन अपार्टमेंट का एक हिस्सा ढह गया था और झोपड़ियां उसमें समा गईं थीं। बिना सोचे-समझे वह मलबे में कूद गया और लोगों को तलाशने लगा। इस बीच पुलिस और दमकलकर्मी पहुंच गए। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि पांच झोपड़ियों में चार पुरुष, दो बच्चे और एक महिला थी। घटना के वक्त पांच अन्य मजदूर भी खड़े थे। वह लोग भी अपार्टमेंट का हिस्सा ढहते ही उसमें गिर पड़े।
इनकी हुई मौतः प्रतापगढ़ निवासी मुकादम (35), दो माह की आयशा।
ये लोग हुए घायलः हादसे में अभिजीत कुमार, चंदन कुमार, दरोगा, रूकसाना, गोलू, अफसाना, लालबाबू और चार अन्य लोग घायल हुए हैं।

Ad