तीन महिलाओं की मौत के बाद जिस बाघिन को मशक्कत के बाद पकड़ा गया था उसे लेकर बड़ी खबर सामने आई

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। भीमताल ब्लॉक के जंगलियागांव में 25 दिसंबर की रात पकड़ी गई बाघिन ने ही मलुवाताल, पिनरों और अलचौना में दो महिलाओं और एक युवती की जान ली थी। डब्लूआईआई देहरादून से आई रिपोर्ट से इस बात की पुष्टि हुई है। ढेला रेस्क्यू सेंटर भेजी गई बाघिन फिलहाल बाड़े में कैद रहेगी। भीमताल ब्लॉक में 7 दिसंबर को इंद्रा देवी, 9 दिसंबर को पुष्पा देवी और 19 दिसंबर को निकिता शर्मा की बाघिन के हमले में मौत हो गई थी।

इसके बाद वन विभाग ने 25 दिसंबर को जंगलियागांव के तोक नौली में घूम रही बाघिन को ट्रैंक्यूलाइज कर रेस्क्यू सेंटर भेज दिया था। अब देहरादून से आई डीएनए रिपोर्ट में बाघिन का डीएनए और तीनों घटनाओं के बाद मौके से मिले वन्यजीव के बालों समेत अन्य सैंपल के डीएनए से मिलान कर गया। वन संरक्षक दक्षिणी कुमाऊं टीआर बीजूलाल का कहना है कि मंगलवार की शाम डीएनए रिपोर्ट आ गई है। सैंपल मिलान होने के बाद साफ है कि तीनों लोगों को पकड़ी गई बाघिन ने मारा है।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में ईडी की कार्रवाई से हड़कंप, अमरीका में सज़ा काट रहे कारोबारी के घर पड़ा छापा