नैनीताल की युवा अधिवक्ता ने राहुल गांधी मानहानि मामले में निभाई महत्वपूर्ण भूमिका, अचानक आईं सुर्खियों में

ख़बर शेयर करें -

नैनीताल। जिला मुख्यालय नैनीताल निवासी युवा अधिवक्ता स्वाति आर्या एकाएक सुर्खियों में आ गयी। लोग उनके बारे में एक दूसरे से पूछ रहे हैं कि नैनीताल की यह अधिवक्ता कौन है जिन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर लगे मानहानि के मुकदमे को निरस्त करने हेतु सुप्रीम कोर्ट में दायर अपील की ड्राफ्टिंग करने में अहम भूमिका निभायी। बता दें कि स्वाति आर्या जाने माने वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी की जूनियर हैं वह नैनीताल शहर के तल्लीताल में निवास करती हैं।

उनके पिता अजय लाल वन विभाग में ड्राफ्रटमैन रहे हैं और वर्तमान में होटल व्यवसाय से जुड़े हुए हैं। 4 अगस्त शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी को मानहानि के मुकदमे में दो साल की सजा दिए जाने के गुजरात हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाने के बाद राहुल गांधी ने वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी व उनकी टीम को अपने आवास में भोजन पर आमंत्रित किया। जहां स्वाति आर्या भी मौजूद थीं। दूसरी ओर कांग्रेस के प्रदेश सचिव गिरीश पपनै सहित नैनीताल के कांग्रेस नेताओं ने स्वाति आर्या की मेहनत व निष्ठा की सराहना करते हुए उन्हें बधाई दी है।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए, भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आए, अब फिर कांग्रेस छोड़ दी, अब कहां जाएंगे अरविंदर सिंह लवली ?