हल्द्वानी के रामपुर रोड में 44 दुकानों पर चली जेसीबी, सैकड़ों लोगों के कारोबार उजड़ गए

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी में रामपुर रोड पर वन विभाग की जमीन पर एच एन इंटर कॉलेज की बाउंड्री में 44 दुकानों पर बुलडोजर चल ही गया। भारी पुलिस फोर्स के साथ पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों की मौजूदगी में दुकानों पर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई।
हल्द्वानी के रामपुर रोड 44 दुकानों के कारोबारियों में इस वक्त भारी आक्रोश है। उनका कहना है कि सरकार ने उनका पक्ष नहीं सुना। वह अतिक्रमणकारी नहींहैं। इसके बावजूद उनके कारोबारों को उजाड़ा गया। इस दौरान वन विभाग की एसडीओ शशि देव, सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह, लालकुआं सीओ संगीता, कोतवाल हरेन्द्र चौधरी, एसओ बनभूलपुरा नीरज भाकुनी, एसओ चोरगलिया भगवान महर, रेंजर रूप नारायण गौतम समेत वन विभाग और पुलिस फोर्स मौजूद रही। सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने बताया कि यह 44 दुकान अवैध हैं, जो की एचएन इंटर कॉलेज को वन विभाग द्वारा दी गई लीज पर बनाई गई थी।लीज समाप्त हो गई है। अब इन दुकानों को तोड़ दिया गया है। बताते चलें हल्द्वानी में वन विभाग और प्रशासन ने हाईकोर्ट के निर्देश पर वन भूमि पर बनी 44 दुकानों को ध्वस्त करने की कार्यवाही शुरू कर दी है। बता दें कि रामपुर रोड एचएन इंटर कॉलेज समीप बनी दुकानों की लीज़ खत्म हो गई थी, जिसके बाद वन विभाग ने दुकान स्वामियों को दुकान खाली करने का नोटिस दिया था। दुकानदार नोटिस के खिलाफ उत्तराखंड हाईकोर्ट पहुँचे, जहां से उन्हें लगभग 05 माह में दुकान खाली करने का समय उस वक़्त मिला जिसकी मियाद ख़त्म हो चुकी थी। पीड़ित दुकानदारो ने इस मामले में अपनी दुकानों को बचाने के लिए हरसंभव कोशिश की थी लेकिन उन्हें न तो हाईकोर्ट से राहत मिली और न ही सांसद अजय भट्ट उनकी मदद कर पाए। दुकानदारों ने अजय भट्ट से गुहार लगाई थी।जहां से कोई मदद नहीं मिली।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में ईडी की कार्रवाई से हड़कंप, अमरीका में सज़ा काट रहे कारोबारी के घर पड़ा छापा