उत्तराखण्ड में वीआईपी कल्चर पर कांग्रेस ने सरकार को घेरा कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा- जाम से जनता हो रही है बेहाल

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। कांग्रेस ने वीआईपी कल्चर पर कड़ी आपत्ति जताई है। कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने आरोप लगाते हुए कहा कि जनप्रतिनिधि को जहां जनता को सुविधा देनी चाहिए वहीं वीआईपी मूवमेंट के नाम पर रूट डाईवर्ट करने पर जनता का उत्पीड़न हो रहा है। वीआईपी मूवमेंट के नाम पर रूट डाईवर्ट करने से शहरों में जाम की स्थिति उत्पन्न हो रही है जिससे स्कूली बच्चों, एम्बुलेंस व दफ्तर जाने वालों का साथ-साथ आम जन को जाम में फंसने से कठिन स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने कहा कि कुमाऊं के प्रवेश द्वार हल्द्वानी शहर की जनता इन दोनों जाम से परेशान है। विभिन्न कार्यक्रमों में आने वाले वीआईपी के कारण प्रशासन हर रोज रूट डायवर्जन कर जनता के हितों की अनदेखी कर रहा है। रूट डायवर्जन के कारण शहर की हर सड़कों और गली मोहल्लों में जाम लगना आम बात हो गई है।

लोगों को गंतव्य तक पहुंचने में घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। एंबुलेंस के जाम में पफंसने से जहां मरीजों की जान में आफत आ रही है, वहीं स्कूली बच्चे भी समय पर स्कूल और अपने घरों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। जिस कारण उनके अभिभावक भी परेशान रहते हैं। शादियों का सीजन होने के कारण पहाड़ से यहां खरीदारी करने पहुंच रहे लोगों को भारी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। अधिकारी अपने दफ्तर छोड़कर प्रोटोकॉल का पालन करने को मजबूर है। जिस कारण आम जनता के काम नहीं हो पा रहे हैं। पुलिस प्रशासन के प्रोटोकॉल में लगे होने के कारण अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-प्रसिद्ध गणितज्ञ प्रोफेसर राजेन्द्र प्रसाद पंत ने शोधपत्रों से विद्यार्थियों को परिचित करवाया

शहर में हत्या और चोरी की वारदातें होना आम बात हो गई है। गत दिवस मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्राी के यहां होने के बीच पुलिस और अधिकारी प्रोटोकॉल में व्यस्त रहे, जबकि उसी दिन शाम को रामपुर रोड में कत्था फैक्ट्री के पास सरेआम एक हत्या की वारदात हो गई। जबकि नैनीताल रोड में तिकोनिया के पास चलती गाड़ी से बदमाशों ने एक युवक को गोली मार दी, जो गंभीर रूप से घायल है। इसलिए सरकार को चाहिए कि वह वीआईपी कल्चर को समाप्त करे। साथ ही सरकार को चाहिए कि वह किसी भी वीआईपी के पीछे पूरे सिस्टम को ना झोंके।

Ad