प्राइवेट बस में महिला से गैंगरेप, आरिफ पकड़ा गया, ललित फरार

ख़बर शेयर करें -

कानपुर से जयपुर जा रही एक प्राइवेट बस में कथित तौर पर महिला के साथ गैंगरेप किया गया। पीड़ित महिला के दलित होने की बात सामने आई है। पुलिस के मुताबिक पीड़िता बस के कैबिन में बैठी थी। उसी दौरान दो लोगों ने उसका रेप किया। बाद में बस रुकवाई गई तो एक आरोपी फरार हो गया। समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक गैंगरेप की ये वारदात को 9 और 10 दिसंबर की दरमियानी रात की है। पीड़िता की उम्र 20 वर्ष बताई जा रही है। पुलिस के अनुसार महिला के साथ गैंगरेप बस के दो ड्राइवरों ने किया है।

पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उसका नाम आरिफ बताया जा रहा है। वहीं दूसरा आरोपी फरार है। उसकी पहचान ललित के रूप में हुई है। जयपुर के कानोता थाने के इंस्पेक्टर भगवान सहाय मीणा ने बताया कि आरिफ को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि ललित भागने में सफल रहा। पुलिस की टीमें उसकी तलाश में जुटी हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:उपद्रव की आड़ में सिपाही व साथियों ने की थी प्रकाश की हत्या पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

पुलिस के मुताबिक आरिफ को फिलहाल न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि जिस वक्त घटना हुई तब बस के अंदर कुछ ही यात्री थे। पीड़िता चालक के पास बने कैबिन में बैठी थी जो कि अंदर से बंद था। उन्होंने बताया कि जब घटना हुई तो महिला ने शोर मचाया। इससे यात्री सचेत हो गए। उन्होंने बस रुकवा ली. चालक आरिफ को पकड़ लिया गया। लेकिन ललित भागने में सफल रहा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:उपद्रव की आड़ में सिपाही व साथियों ने की थी प्रकाश की हत्या पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

मामले को लेकर इंस्पेक्टर फूलचंद मीणा ने बताया कि पीड़ित युवती कानपुर से जयपुर के लिए एक प्राइवेट बस में सवार हुई थी। वो सांगानेर में अपने मामा के घर जा रही थी। उन्होंने बताया कि पीड़िता ने बस के दोनों चालकों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ धारा 376 डी (सामूहिक बलात्कार) और एससी, एसटी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Ad