मुश्किल में घिरे ब्लादिमीर पुतिन, रूस में गृहयुद्ध के आसार, करीबी ने दिखाए तेवर

ख़बर शेयर करें -

यूक्रेन युद्ध में फंसे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं। दरअसल रूस के वैगनर ग्रुप के मुखिया येवगेनी प्रिगोझिन ने रूसी रक्षा मंत्रालय के विरुद्ध बगावत कर दी है। वहीं प्रिगोझिन की बगावत के बाद रूसी रक्षा मंत्रालय ने भी त्वरित प्रतिक्रिया दी है और प्रिगोझिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है। हथियारबंद बगावत के आरोप में प्रिगोझिन को 20 साल की सजा हो सकती है।

रूस की फेडरल सिक्योरिटी सर्विस (एफएसबी) की नेशनल एंटी टेरेरिज्म कमेटी ने वैगनर ग्रुप के मुखिया पर हथियारबंद विद्रोह का आरोप लगाया है। फेडरेल सिक्योरिटी सर्विस ने वैगनर के सैनिकों से अपील की है कि वह प्रिगोझिन के आदेश मानने से इनकार कर दें। एफएसबी ने प्रिगोझिन की बगावत को रूसी सेना की पीठ में छुरा घोंपने जैसा बताया है। वैगनर ग्रुप के चीफ येवगेनी प्रिगोझिन की धमकी के बाद रूस के सैन्य मुख्यालय की सुरक्षा चाक-चौबंद कर दी गई है। बख्तरबंद गाड़ियां और हथियारबंद सैनिक मुख्यालय के आसपास तैनात कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  भाजपा के मुस्लिम नेता ने पीएम के ‘घुसपैठिया’ बयान को गलत बताया, पार्टी ने निकाला, पुलिस ने हिरासत में ले लिया

वैगनर ग्रुप के मुखिया की बगावत के चलते रूस में गृह युद्ध के हालात बन सकते हैं। रूस के राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि यह प्रिगोझिन का अंत हो सकता है। वहीं कुछ का मानना है कि इससे रूस में गृह युद्ध भी छिड़ सकता है क्योंकि प्रिगोझिन के समर्थक भी रूस में अच्छी खासी तादाद में हैं। ऐसे में इससे व्लादिमीर पुतिन की मुश्किलें बढ़नी तय हैं।

Ad