न्यूरो के मरीज़ों को अब बड़े शहरों में जाने की जरूरत नहीं, सुशीला तिवारी अस्पताल में जटिल से जटिल रोगों का भी इलाज, Dr. amit deval

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। न्यूरो के मरीजों के लिए अच्छी खबर है। इन मरीजों को उपचार व जटिल ऑपरेशन के लिए अब दिल्ली, मुम्बई, बरेली, लखनऊ जैसे महानगरों की दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी। राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी का न्यूरो सर्जरी विभाग मरीजों का जटिल ऑपरेशन कर मरीजों व परिजनों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर रहा है। इसी कड़ी में डा. सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय में न्यूरो सर्जन डा. अमित देवल ने एक मरीज का जटिल ऑपरेशन सफलतापूर्वक कर चिकित्सकीय पेशे व चिकित्सालय का मान बढ़ाया है। कुमाऊॅ व गढ़वाल क्षेत्र के ऐसे मरीज जिनका इलाज निजी चिकित्सालय में करवाना अपनी क्षमता से बाहर है उनके लिए डा. सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय वरदान साबित हो रहा है।

न्यूरो के रोगियों को चिकित्सालय में बेहतरीन उपचार मिल रहा है। इसी कड़ी में ऐसा ही एक 48 वर्षीय रोगी मोहन चन्द्र निवासी ग्वालदम चमोली पहाड़ी से गिर गया था, जिसे गंभीर चोट लगी थी। जो विगत 10 अक्टूबर को डा. सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय के न्यूरो सर्जरी विभाग की ओपीडी में परामर्श के लिए आया। न्यूरो सर्जन डा. अमित देवल द्वारा उक्त रोगी को सर्जरी की सलाह दी गयी, जिसके लिए रोगी की समस्त जांचें कराने के उपरांत न्यूरो सर्जन डा. अमित देवल ने एनेस्थिीसिया विभाग की मदद से मरीज का अत्यंत जटिल ऑपरेशन सफलतापूर्वक किया। न्यूरो सर्जन डा. अमित देवल ने बताया कि पहाड़ से गिरने के कारण मरीज को गंभीर चोट लग गयी थी। चोट लगने के कारण उसकी रीढ़ की पहले व दूसरे नंबर की हड्डियां जो कि रीढ़ की हड्डी को सिर से जोड़ती हैं वह टूट गई।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में ईडी की कार्रवाई से हड़कंप, अमरीका में सज़ा काट रहे कारोबारी के घर पड़ा छापा

इस तरह की चोट बहुत ही गंभीर होती है तथा इसका ऑपरेशन भी बहुत जटिल होता है। ऑपरेशन करते समय दिमाग को खून भेजने वाली बड़ी धमनियों के पास काम करना होता है और सिर को रीढ़ की हड्डी से फिक्स कर दिया जाता है। डा. देवल ने बताया कि इस तरह के जटिल ऑपरेशन दिल्ली, मुम्बई, बरेली, लखनऊ जैसे बड़े शहरों में ही हो पाते थे। सुशीला तिवारी अस्पताल में इस तरह का अत्यंत जटिल ऑपरेशन पहली बार किया गया है। निजी चिकित्सालय में इस प्रकार के ऑपरेशन में 4-5 लाख रुपये का खर्च आती है, लेकिन सुशीला तिवारी चिकित्सालय में उक्त ऑपरेशन आयुष्मान योजना के तहत निः शुल्क किया गया। मरीज का जटिल ऑपरेशन सफलतापूर्वक करने पर न्यूरो सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष डा. अभिषेक राज ने डा. देवल को बधाई देते हुए उनकी सराहना की। प्राचार्य डा. अरुण जोशी ने रोगी का जटिल ऑपरेशन सपफलता पूर्वक करने पर न्यूरो सर्जन डा. अमित देवल वं चिकित्सकीय टीम को बधाई दी है।

Ad