पूर्व विधायक प्रत्याशी को भारी पड़ गया सोशल मीडिया पर सीएम धामी की छवि धूमिल करना

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा। सोशल मीडिया में प्रदेश सरकार और सीएम पुष्कर सिंह धामी की छवि धूमिल करने के आरोप में अल्मोड़ा विधानसभा के पूर्व विधायक प्रत्याशी विनोद तिवारी के खिलापफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि विनोद तिवारी लगातार असंगत टिप्प्णी करते हुए अनावश्यक वीडियो सोशल मीडिया में अपलोड कर रहे थे। उनके खिलाफ आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। बता दें कि उन्होंने वर्ष 2022 में अल्मोड़ा विधानसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ा था। उत्तराखंड में पेपर लीक और अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में सीबीआई जांच की मांग को लेकर राष्ट्र नीति संगठन के प्रमुख और अल्मोड़ा के पूर्व विधायक प्रत्याशी विनोद तिवारी लंबे समय से मालरोड स्थित गांधी पार्क में धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। इस संबंध मे 05 जून को अल्मोड़ा कोतवाली की ओर से विनोद तिवारी को नोटिस दिया गया। आरोप है कि इसके बावजूद भी राष्ट्र नीति संगठन के प्रमुख की ओर से कई और अनावश्यक वीडियो अपलोड कर मुख्यमंत्री की व्यक्तिगत ख्याति को नुकसान पहुंचाया गया। इधर इस मामले में एसएसआई सतीश चंद्र कापड़ी ने बताया कि शुक्रवार को विनोद तिवारी, निवासी ग्राम चाण अल्मोड़ा और हाल निवासी एनटीडी अल्मोड़ा के खिलाफ धारा 469/505 भादवि व 74 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  इंदौर में फिर ‘सूरत’-कांग्रेस प्रत्याशी को कार में बिठाकर ले गए कैलाश विजयवर्गीय