बच्चों में झगड़ा हुआ, बड़ों में चले लाठी डंडे, हलाल होना पड़ा मुर्गे को

ख़बर शेयर करें -

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामला शांत कराया

अजीबो गरीब मामला उत्तराखण्ड के रुड़की का है। झूठा केस दर्ज करवाने के लिए एक व्यक्ति अपने बेटे के सिर पर मुर्गे का खून लगाकर कोतवाली जा पहुंचा। पुलिस ने उसके झूठ को चंद मिनट में ही पकड़ लिया और व्यक्ति को जमकर फटकार लगाई। गंगनहर कोतवाली क्षेत्र स्थित गुलाबनगर में रविवार देर रात बच्चों के विवाद में बड़ों में जमकर लाठी-डंडे चले थे।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामला शांत कराया था। इस मामले में सोमवार को एक व्यक्ति अपने 15 साल के खून से सने बेटे के साथ कोतवाली पहुंचा। यहां उसने बताया कि दूसरे पक्ष ने उसके बेटे के सिर पर धारदार हथियार से हमला कर लहूलुहान कर दिया है। पुलिस ने उसके बेटे के सिर की जांच की तो कोई घाव नहीं मिला। पुलिस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की।

इस पर उसने बताया कि वह झूठा केस दर्ज करवाने के लिए बेटे के सिर पर मुर्गे का खून लगाकर आया था। सच्चाई पता चलने पर पुलिस ने उसे जमकर फटकार लगाई। कोतवाली प्रभारी मनीष उपाध्याय ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। दोनों पक्षों को दोबारा विवाद करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।

Ad