संविधान बदलने के लिए दो तिहाई बहुमत दीजिए…भाजपा सांसद के बयान पर हल्ला

ख़बर शेयर करें -

कर्नाटक से भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े के बयान से भाजपा ने खुद को अलग कर लिया है। सांसद ने कहा था कि अगर भाजपा को राज्यसभा में दो-तिहाई बहुमत मिलता है तो संविधान में बदलाव किए जाएंगे। उन्होंने कहा था कि हिंदू समुदाय को दबाने के लिए कांग्रेस द्वारा बनाए गए ‘अनावश्यक’ कानूनों को खत्म किया जाएगा। बीजेपी ने हेगड़े के कॉमेंट से खुद को अलग करते हुए कहा है कि ये हेगड़े के निजी विचार हैं और उनसे स्पष्टीकरण भी मांगा जाएगा।

एक रिपोर्ट के मुताबिक भाजपा नेता गौरव भाटिया ने भी इन्हीं बातों को दोहराते हुए कहा है कि भाजपा ने हेगड़े के बयान पर संज्ञान लेते हुए उनसे स्पष्टीकरण मांगा है। उन्होंने कहा है कि भाजपा हर निर्णय देश के हित में और संविधान की भावना के अनुरूप लेती है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोशल मीडिया एक्स (ट्विटर) पर इस बारे में एक पोस्ट किया है कि “भाजपा सांसद का बयान कि उन्हें 400 सीट संविधान बदलने के लिए चाहिए। नरेंद्र मोदी और उनके ‘संघ परिवार’ के छिपे हुए मंसूबों का सार्वजनिक एलान है।

यह भी पढ़ें 👉  राहुल गांधी के हैलीकॉप्टर की तलाशी, वायनाड जा रहे थे कांग्रेस सांसद

नरेंद्र मोदी और भाजपा का अंतिम लक्ष्य बाबा साहेब के संविधान को खत्म करना है। उन्हें बीजेपी को न्याय, बराबरी, नागरिक अधिकार और लोकतंत्र से नफरत है। समाज को बांटना, मीडिया को गुलाम बनाना, अभिव्यक्ति की आजादी पर पहरा और स्वतंत्र संस्थाओं को पंगु बनाकर विपक्ष को मिटाने की साजिश से वो भारत के महान लोकतंत्र को संकीर्ण तानाशाही में बदलना चाहते हैं। हम आजादी के नायकों के सपनों के साथ ये षड्यंत्र सफल नहीं होने देंगे और अंतिम सांस तक संविधान से मिले लोकतांत्रिक अधिकारों की लड़ाई लड़ते रहेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  कल हल्द्वानी में योगी आदित्यनाथ की जनसभा, रूट डायवर्ट 

कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले के सिद्धपुर में 8 मार्च को एक कार्यक्रम में बोलते हुए हेगड़े ने कहा था-“संविधान में संशोधन करना होगा क्योंकि कांग्रेस के लोगों ने कुछ अनावश्यक बदलाव करके इसे मौलिक रूप से बदल दिया है. खासकर हिंदू समुदाय से जुड़े कानून। अगर यह सब बदलना है तो यह दो-तिहाई बहुमत के बिना नहीं किया जा सकता है।

Ad